Sunday, February 21, 2010

मेरा सवाल 80

मनुष्य किस समय ज्यादा सोचता है या अच्छी योजनाएं/विचार तैयार करता है?

सुविधा के लिए विकल्प है -

१.स्नान करते वक्त या बाथरुम में.

२.बिस्तर पर

३.गाड़ी चलाते वक्त

४.चलते वक्त

५.कसरत,तैरते या दौड़ते वक्त

==========================

मेरा सवाल 79 का सही उत्तर - OUR AMERICAN COUSIN BY TOM TAYLOR

श्री प्रकाश गोविन्द जी द्वारा सर्वप्रथम सही उत्‍तर दिया गया,बधाई.

साथ ही उनके उत्तर को- मेरा सवाल ७८ का उत्तर- भी सही माना जाता है.

इसके अलावा श्री रामकृष्‍ण गौतम जी , सुश्री क्रितिका जी , श्रीमती अल्पना वर्मा जी , शमीम जी, श्री मनोज कुमार जी ,मोहसिन जी ने भी सही उत्‍तर प्रेषित किया .

चलते - चलते ****** सर्वप्रथम गोल्फ़ स्काटलेंड में खेला गया था.

12 comments:

प्रकाश गोविन्द said...

१.स्नान करते वक्त या बाथरुम में.

बेचैन आत्मा said...

मैं तो चलते वक्त अधिक सोंचता हूँ ...सही उत्तर आप बता दीजिए.

प्रकाश गोविन्द said...

ज़मीर जी प्रत्येक इंसान की बॉडी कैमिस्ट्री अलग-अलग होती है ! कोई तयशुदा पैमाना नहीं होता ऐसी चीजों का !

जैसे सभी किताबों में लिखा है या फिर बड़े बुजुर्ग कहते रहे हैं सुबह पढने से ज्यादा याद रहता है लेकिन मेरा साथ ऐसा बिलकुल भी नहीं है ! मुझे पढने के लिए रात्रि का समय सबसे अनुकूल लगता है ... मूड भी सही रहता है और पढ़ा हुआ स्मरण भी रहता है !

इसी तरह आपने जैसा प्रश्न किया है उसका कोई एक जवाब सब पर लागू नहीं होता ! हो सकता है किसी को बाथरूम में प्लान/ विचार करने में सुविधा हो और किसी को बिस्तर पर

बहरहाल दिलचस्प सवाल है
देखते हैं बाकी लोगों की राय क्या है इस पर

प्रकाश गोविन्द said...

अब देखिये ज़मीर भाई 'बेचैन आत्मा' को टहलते हुए प्लान बनाने में सुविधा रहती है :)

बूझो तो जानें said...

धन्यवाद प्रकाश जी और देवेन्द्र जी.

उत्तर के कल रात 9 बजे तक इंतजार करें.

Ram Krishna Gautam said...

३.गाड़ी चलाते वक्त

"RAM"

मोहसिन said...

Rochak sawal.

मोहसिन said...

Mai to snaan karte vakt jayada sochta hu. Aapke viklap ke anusaar mera uttar vikalp no.1 hai.

मनोज कुमार said...

१.

शमीम said...

जब भी मौका मिलता है:}

शमीम said...

सच कहुं तो मेरे पास बाथरूम मे सोच्ने का समय होता है.

अल्पना वर्मा said...

Diye gaye options mein se-1-